छत्तीसगढ़ के दो देशी कुत्ते गए हवाई यात्रा कर कनाड़ा, अब एडॉप्शन का इंतजार 

 छत्तीसगढ़ के दो देशी कुत्ते गए हवाई यात्रा कर कनाड़ा, अब एडॉप्शन का इंतजार 

स्पेशल डेस्क, तोपचंद। छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले से दो देशी कुत्ते हवाई यात्रा कर कनाड़ा गए हैं। सुनने में अजीब है, लेकिन यह अपने तरह का पहला मामला है। दोनों देशी कुत्तों की हवाई टिकट कराई गई थी और उन्हें कनाड़ा भेजा दिया गया है। यहां उन्हें अब एडॉप्शन का इंतजार है।

Header Ad

यह संभव हो पाया पीपुल फॉर एनिमल (पीएफए) और एनिमल केयर जोन के सम्मिलित प्रयासों से

मिल्की

पीएफए दुर्ग-भिलाई यूनिट के 2 के बच्चों ने 2020 में दो कुत्तों को रेस्क्यू किया था। इनको किसी ने हाईवे पर मरने के लिए छोड़ दिया था। इनमें से एक के शरीर पर नाममात्र के भी रोएं नहीं थे। संस्था के सदस्यों ने अपने घर पर रखकर इनकी सेवा की और उन्हें नया जीवन दिया।

मीनू

इन कुत्तों का नाम मिल्की और मीनू है और उन्हें गोद लेने के लिए कोई परिवार नहीं मिला। संस्था के पास सीमित साधन हैं। उन्होंने अपनी सहयोगी संस्था एनिमल केयरजोन से सम्पर्क किया। पता लगा कि विदेशों में सभी जीव जंतुओं के प्रति समान भावना रखी जाती है। वे ब्रीड और पेडिग्री को लेकर ज्यादा भेदभाव नहीं करते। इन कुत्तों को सुदूर कनाडा में घर मिल जाएगा अंततः इन दोनों कुत्तों की हवाई टिकट बुक कराई गई और उन्हें कनाडा रवाना कर दिया गया।

 

Header Ad

Shrikant Baghmare

Related post

Open chat
Join Us On WhatsApp