आज तीसरी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगी ममता, हिंसा के विरोध में भाजपा का छत्तीसगढ़ सहित देशभर में धरना-प्रदर्शन, वीडियो देखें

 आज तीसरी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगी ममता, हिंसा के विरोध में भाजपा का छत्तीसगढ़ सहित देशभर में धरना-प्रदर्शन, वीडियो देखें
[responsivevoice_button voice="Hindi Female"]

नेशनल डेस्क/रायपुर, तोपचंद। पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) की जीत के बाद ममता बनर्जी बुधवार को लगातार तीसरी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगी। उन्होंने हिंसा रोकने को लेकर मंगलवार को मुख्य सचिव अलपन बंद्योपाध्याय, गृह सचिव एचके द्विवेदी, पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) नीरजनयन के साथ बैठक की। वहीं चुनाव नतीजों के बाद शुरू हुई हिंसा के विरोध में भारतीय जनता पार्टी ने देशभर में धरना-प्रदर्शन का एलान किया है।

Header Ad

भाजपा ने चुनाव बाद हिंसा में अपने छह कार्यकर्ताओं की हत्या का दावा किया है। इसके विरोध में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा कोलकाता पहुंचे। उन्होंने पीड़ित कार्यकर्ताओं से मुलाकात की। नड्डा ने कहा, ‘हिंसा की ऐसी घटनाएं भारत के बंटवारे के बाद हुई थी। चुनाव बाद हिंसा पहली बार देख रहा हूं।

इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्य के हालात को लेकर राज्यपाल जगदीप धनखड़ से मंगलवार को फोन पर बात की और हिंसा पर चिंता जताई। राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने भी डीजीपी को जांच टीम बनाने और मौके पर जाकर जांच करने को कहा है। राष्ट्रीय महिला आयोग ने नंदीग्राम में महिलाओं पर हमले और हिंसा की जांच करने को कहा है। आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने इस बारे में डीजीपी को चिट्टी लिखी है।

वहीं भाजपा प्रवक्ता गौरव भाटिया ने हिंसा को लेकर सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है। उन्होंने कोर्ट से अनुरोध किया है कि राज्य पुलिस से हिंसा रोकने के लिए की गई कार्रवाई की रिपोर्ट तलब की जाए। उधर, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा, ‘टीएमसी के गुंडे पार्टी कार्यकर्ताओं पर हमले कर रहे हैं। पार्टी अपने कार्यकर्ताओं के साथ पूरी ताकत से खड़ी है। हमने राजनीति नहीं छोड़ी है।’

वहीं असम के मंत्री हिमंत बिश्वशर्मा ने कहा कि 300 से 400 भाजपा कार्यकर्ता बंगाल में घर छोड़कर जान बचाने को असम आ गए हैं। गौरतलब है कि दो मई को आए चुनाव नतीजों में टीएमसी ने 213 और भाजपा ने 77 सीटों पर जीत दर्ज की है। इसके बाद से हिंसा जारी है।

छत्तीसगढ़ भाजपा के अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने टीएमसी के खिलाफ छत्तीसगढ़ में कोविड-19 की गाइडलाइन का पालन करते हुए धरने पर बैठने की अपील की है। साय ने बंगाल में चुनाव परिणाम आने के बाद से हिंसा और भाजपा नेताओं, कार्यकर्ताओ व पार्टी कार्यालय पर हमले की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए इसे लोकतंत्र की हत्या का प्रयास बताया है।

वीडियो देखें

Header Ad

Harish Jangde

http://topchand.com

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Open chat
Join Us On WhatsApp