फिल्मों और टेलीविजन के सितारे जिन्होंने दुनिया को 2020 में कहा अलविदा

 फिल्मों और टेलीविजन के सितारे जिन्होंने दुनिया को 2020 में कहा अलविदा

सुशांत सिंह राजपूत

Header Ad

बॉलीवुड के युवा और उभरते अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत ने 34 साल की उम्र में 14 जून, 2020 को आत्महत्या कर ली थी। बांद्रा स्थित अपार्टमेंट में उनके घर में फांसी पर लटकी उनकी लाश मिली थी। इस साल के सबसे विवादित मामलों में से एक इस आत्महत्या की जांच अब तक की जा रही है। कारण सुशांत के फैंस और उनके परिवार द्वारा आत्महत्या पर संदेह जताना। बिहार के रहने वाले सुशांत ने टेलीविजन से अपने करियर की शुरूवात की और फिल्मी परदे तक अपनी छाप छोड़ी। एक्टर ने टीवी सीरियल ‘किस देश में है मेरा दिल’ से एक्टिंग की दुनिया में कदम रखा था। इसके बाद उन्होंने ‘काय पो चे’ के जरिए बॉलीवुड में कदम रखा था। उनके परिजनों से लेकर फैन्स ने उनकी मौत के मामले में सीबीआई जांच की मांग की। बिहार में इस पर काफी हंगामा हुआ। बाद में मामला सुप्रीम कोर्ट तक पहुंचा और कोर्ट ने भी जांच का जिम्मा मुंबई पुलिस से लेकर सीबीआई को सौंप दिया। सीबीआई ने एम्स में विसरा रिपोर्ट की जांच कराई, जिसमें दम घुटने से मौत की बात कही गई है।

Header Ad

ऋषि कपूर

ऋषि कपूर ने 30 अप्रैल 2020 को बोन मैरो कैंसर के कारण आयी परेशानी के कारण 67 वर्ष की उम्र में दुनिया को अलविदा कह दिया। अभिनेता-फिल्म निर्देशक राज कपूर के पुत्र और अभिनेता पृथ्वीराज कपूर के पोते ऋषि ने एक बाल कलाकार के रूप में मेरा नाम जोकर फिल्म से उन्होंने अपने करियर की शुरूवात की जिसके लिए 1970 में राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कार प्राप्त किया। उन्हें बॉबी फ़िल्म के लिए 1974 में सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के लिए फ़िल्मफ़ेयर पुरस्कार और साथ ही 2008 में फ़िल्मफेयर लाइफटाइम अचीवमेंट पुरस्कार से सम्मानित किया गया। उन्होंने 1973 और 2000 के बीच 92 फिल्मों में रोमांटिक लीड के रूप में प्रमुख भूमिकाएँ निभाईं। 1973 से 1981 के बीच बारह फिल्मों में अपनी पत्नी नीतू सिंह  के साथ दिखाई दिए। ऋषि कपूर और नीतू सिंह की शादी 22 जनवरी 1980 में हुई थी। वर्ष 2018 में उन्हें कैंसर का पता चला था, जिसके बाद लगभग एक वर्ष तक न्यूयॉर्क में उनका इलाज चला था। अपने अंतिम समय में वे मुम्बई के एचएन रिलायंस फाउंडेशन अस्पताल में भर्ती थे। इसबीच वे अपनी फिल्म शर्माजी नमकीन की शूटिंग कर रहे थे। उनके बेटे रणबीर कपूर इन दिनों फिल्मों में सक्रिय है,वहीं उनकी बेटी रिदिमा लाइमलाइट से दूर रहती है।

इरफान खान

साहबजादे इरफ़ान ख़ान का जन्म 7 जनवरी 1967 को हुआ था। उन्होंने द वारियर, मकबूल, हासिल, द नेमसेक, रोग जैसी फिल्मों में अभिनय कर अपनी पहचान बनाई थी। हासिल फिल्म के लिये उन्हे 2004 का फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ खलनायक पुरस्कार भी प्राप्त हुआ। वे हिन्दी सिनेमा की 30 से ज्यादा फिल्मों में अभिनय कर चुके थे। हिंदी फिल्मों के साथ उन्होंने हॉलीवुड मे भी अपनी पहचान बनाई। वह ए माइटी हार्ट, स्लमडॉग मिलियनेयर, लाइफ ऑफ़ पाई और द अमेजिंग स्पाइडर मैन फिल्मों मे भी काम कर चुकें थे। 2011 में उन्हें भारत सरकार द्वारा पद्मश्री से सम्मानित किया। 2012 में 60वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार में इरफ़ान खान को फिल्म पान सिंह तोमर में अभिनय के लिए श्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार दिया गया। 2017 में प्रदर्शित हिंदी मीडियम फिल्म के लिए उन्हें फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेता चुना गया। 2018 में उन्हें न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर का पता चला था, जिसके बाद वे एक साल के लिए ब्रिटेन में इलाज के लिए रहे थे। 2020 में प्रदर्शित अंग्रेज़ी मीडियम उनकी प्रदर्शित अंतिम फ़िल्म रही। 29 अप्रैल 2020 को उनका निधन हो गया।

जगदीप “सूरमा भोपाली”

8 जुलाई 2020 को मुंबई स्थित घर में जगदीप का इंतकाल हुआ। जगदीप का पूरा नाम सैयद इश्तियाक अहमद जाफरी था। 81 साल के जगदीप लंबे समय से बीमारियों से परेशान चल रहे थे। जगदीप रमेश सिप्पी की फिल्म ‘शोले’ (1975) के किरदार सूरमा भोपाली के नाम से पॉपुलर थे। जगदीप अपने जमाने के बेहतरीन कॉमेडियन रहे हैं। उन्होंने सूरमा भोपाली बन पहचान तो बनाई ही साथ ही साथ भोपाल शहर की बोली को भी मशहूर बनाया।  फिल्म इंडस्ट्री ने उन्हें पहले जगदीप नाम दिया और 1988 में आई फिल्म ‘सूरमा भोपाली’ ने उन्हें सूरमा बना दिया। उनके दोनों बेटे जावेद जाफरी और नावेद जाफरी भी फिल्म इंडस्ट्री में जाना माना नाम हैं। जगदीप को ‘लाइफ टाइम अचीवमेंट अवॉर्ड’ से भी सम्मानित किया जा चुका है।

सरोज खान

बड़े बड़े सितारों को अपने इशारों पर नचाने वाली बॉलीवुड में डांसिंग क्वीन के नाम से मशहूर कोरियोग्राफर सरोज खान का 71 की उम्र में 3 जुलाई को दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया था। वे कई दिन से सांस लेने में तकलीफ के कारण बांद्रा के हॉस्पिटल में भर्ती थीं। 40 साल के करियर में सरोज खान ने करीब दो हजार गाने कोरियोग्राफ किए। उन्होंने तीन बार नेशनल अवॉर्ड भी जीता। सरोज खान ने नच बलिए’, ‘उस्तादों के उस्ताद’, ‘नचले वे विद सरोज खान’, ‘बूगी-वूगी’, ‘झलक दिखला जा’ जैसे कई रियलिटी शो में बतौर जज बनकर नई प्रतिभाओं को सामने लाने में अपनी योगदान दिया।

दिशा सालियान

14 जून को सुशांत की मौत से पहले 8 जून को उनकी पूर्व मैनेजर दिशा सालियान की मौत की खबर ने सबको चौंका दिया था। कहा गया कि दिशा ने 14वीं मंजिल से कूदकर आत्महत्या कर ली। लेकिन इस मामले को सुशांत की मौत से जोड़कर देखा जा रहा है। कहा जा रहा है कि दिशा का मर्डर किया गया था। मुंबई पुलिस मामले की जांच नए सिरे से कर रही है।

वाजिद खान

इस साल 1 जून को बॉलीवुड के मशहूर म्यूजिक कंपोजर वाजिद खान का निधन हो गया था। वे 42 साल के थे। साजिद-वाजिद की जोड़ी से पॉपुलर हुए वाजिद लंबे वक्त से किडनी की परेशानी से जूझ रहे थे। उनका मुंबई के एक अस्पताल में इलाज चल रहा था। अचानक हालत बिगड़ने पर उन्हें वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया था। इन दिनों उनका नाम फिर से सुर्खियों में है। दरअसल उनकी पत्नी ने उनके परिवार और खुद वाजिद पर कई गंभीर आरोप लगाए है।

पंडित जसराज

पंडित जसराज सुर सम्राट पंडित जसराज प्रसिद्ध शास्त्रीय गायक पंडित जसराज का 90 साल की उम्र में 17 अगस्‍त को कार्डिक अरेस्ट की वजह से अमेरिका में निधन हो गया । पद्म बिभूषण जसराज भारत के प्रसिद्ध शास्त्रीय गायकों में से एक थे। जसराज का संबंध मेवाती घराने से रहा। शास्‍त्रीय संगीत के क्षेत्र में उल्‍लेखनीय योगदान के लिए उनको पद्मविभूषण, पद्मभूषण और पद्मश्री से नवाजा गया था।

Header Ad

Nisha Sharma

Related post

Open chat
Join Us On WhatsApp