RSS लीडर डॉ. चटर्जी से मारपीट के बाद दुर्ग में लगे सरोज पांडेय मुर्दाबाद के नारे, दुर्ग सांसद भी आये समर्थन में… BJP कार्यकर्ताओं ने सौंपा कलेक्टर के नाम ज्ञापन

 RSS लीडर डॉ. चटर्जी से मारपीट के बाद दुर्ग में लगे सरोज पांडेय मुर्दाबाद के नारे, दुर्ग सांसद भी आये समर्थन में… BJP कार्यकर्ताओं ने सौंपा कलेक्टर के नाम ज्ञापन

तोपचंद, दुर्ग। जिले के आरएसएस लीडर डॉ. दीप चटर्जी के घर भाजपा सांसद सरोज पाण्डेय की भाभी और भतीजे को तोड़फोड़ करना महंगा पड़ते दिख रहा है। सोमवार को भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा सरोज पाण्डेय के खिलाफ मुर्दाबाद के नारे लगाये गए है, एक बयान में दुर्ग सांसद विजय बघेल ने डॉ. दीप चटर्जी की समर्थन किया है। भाजपा के कार्यकर्ताओं ने सांसद सरोज पाण्डेय की भाभी और भतीजे पर तोड़फोड़ के आरोप में कलेक्टर को ज्ञापन सौंप कार्यवाही की मांग की है।
इस मामले को 24 घण्टे से अधिक समय बीत चुका है, डॉ.दीप चटर्जी की ओर से भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा स्मृति नगर चौकी के बाहर प्रदर्शन और कलेक्टर दुर्ग को सांसद सरोज पांडेय की भाभी चारुलता और उनके बेटे के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की गई है, लेकिन अभी तक रिपोर्ट दर्ज नहीं की गई है। इस मामले में दुर्ग ASP रोहित झा ने कहा है दोनों पक्षों से शिकायत ली गई है और मामले की जांच की जा रही है, संभवतः मंगलवार को इस मामले के केस रजिस्टर किया जाएगा।

Header Ad

पहले जानें विवाद की वजह ?
दरअसल, हालही में जिला भाजपा अध्यक्ष विरेंद्र साहू ने अपनी कार्यकारिणी का ऐलान किया। इसमें एक गुट के नेताओं को रखा गया है। इसके बाद से सोशल मीडिया में लगातार दूसरा खेमा लिख रहा था। इसमें डॉ. दीप चटर्जी प्रमुख थे जो लगातार अपने फेसबुक से लिख रहे थे। सोशल मीडिया में उन्होंने जो लिखा, उसमें शाही दशहरा के चंदे का जिक्र था। डॉ. चटर्जी ने लिख दिया कि शाही दशहरे का चंदा जेब में जाता है। आपको यह भी बता दें कि शाही दशहरा की संरक्षक चारूलता पांडेय है। चारूलता को यह बात जमी नहीं। इसीलिए बात करने डॉ. चटर्जी के घर गए। जहां बातों ही बातों में विवाद हो गया। चारूलता ने कहा कि- हमारे साथ शुरू से पुलिस थी। हमने कोई गाली-गलौज नहीं की है। हमारे पास भी डॉ. चटर्जी का वीडियो है।

Header Ad

डॉ. दीप का आरोप –
डॉ. दीप के मुताबिक सुबह के वक्त चारूलता और उनके दोनों बेटे आए। उनके साथ तकरीबन 300 से ज्यादा लोग थे। जो गाली-गलौज करते रहे। घर के बाहर मजमा किया। डॉक्टर चटर्जी ने ये भी कहा कि- इसके बाद मेरी बेटी के साथ हुज्जत की। मेरी बेटी को थप्पड़ भी जड़ दिया। मां और पत्नी के साथ दुर्व्यवहार किया। किसी ने पुलिस को तत्काल बुलाया। तब जाकर यहां से भीड़ हटी। मैं पुलिस में कंप्लेन दर्ज कराने जा रहा हूं।

भाभी चारुलता की सफाई –
चारूलता के मुताबिक, दीप चटर्जी लगातार महिलाओं के साथ अभद्र व्यवहार कर रहे थे। हमारे साथ पुलिस भी गई थी। हमने किसी के साथ गाली-गलौज नहीं की है। डॉ. दीप चटर्जी वहां मौजूद भीड़ को यह कहते रहे कि महिलाओं का रेप कर दूंगा। चारूलता ने कहा दीप लगातार महिलाओं के घर पर पत्थर फेंक रहा था। औरतों को गंदी गाली दे रहा था। घर में घुसकर रेप कर दूंगा कहकर गाली दे रहा था।

विवाद पर क्या कहा विजय बघेल ने..
दुर्ग सांसद विजय बघेल ने डॉ. चटर्जी को अपना समर्थन दिया है, उन्होंने कहा है मैं इस प्रकरण की निंदा करता हूं। आरएसएस कार्यकर्ता के घर में घुसकर गुंडागर्दी करने वालों के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए। वीडियो में साफ-साफ नजर आ रहा है कि गाली-गलौज और गुंडागर्दी कर रहा है। बावजूद छत्तीसगढ़ की पुलिस उनके खिलाफ रिपोर्ट नहीं लिखी है। सांसद विजय बघेल ने आगे कहा कि, छत्तीसगढ़ की सरकार भी पश्चिम बंगाल की सरकार की तरह गुंडों को समर्थन कर रही है। मार खाने वालों के खिलाफ ही उल्टा एफआईआर दर्ज कर रही है। छत्तीसगढ़ में अपराध बढ़ रहे हैं। यह चिंता का विषय है।

Header Ad

Shrikant Baghmare

Related post

Open chat
Join Us On WhatsApp