विधानसभा ब्रेकिंग: धान खरीदी के बदले सरकारी समितियों को मिलने वाली राशि पर बवाल, बीजेपी विधायकों ने किया वाक-आउट

 विधानसभा ब्रेकिंग: धान खरीदी के बदले सरकारी समितियों को मिलने वाली राशि पर बवाल, बीजेपी विधायकों ने किया वाक-आउट

तोपचंद, रायपुर। धान खरीदने के एवज में सरकारी समितियों को मिलने वाली राशि के मुद्दे पर आज छत्तीसगढ़ विधानसभा में बवाल हुआ। बीजीपी विधायक शिवरतन शर्मा द्वारा लगाये गए सवाल का जवाब खाद्य मंत्री अमरजीत भागत ने दिया, जिससे असंतुष्ट हो कर बीजीपी के विधायक सदन से वाक आउट कर गए।

Header Ad

शिवरतन शर्मा ने पूछा था कि धान खरीदने के एवज में सरकारी समितियों को कितनी राशि दी जाती है। समितियों को कमीशन और प्रासंगिक व्यय का भुगतान क्यों नहीं किया गया?

इसके जवाब में खाद्य मंत्री अमरजीत भागत ने बताया कि 2019-20 के प्रासंगिक व्यय तय किया जा चुका है। 2020-21 के प्रासंगिक व्यय की गणना नहीं हो पाई है। 2019-20 में कमीशन की राशि 262 करोड़ 80 लाख थी। प्रसंगिक व्यय 75 करोड़ 16 लाख, रख रखाव और सुरक्षा में 25 करोड़ 5 लाख खर्च हुआ था। 2020 -21 की गणना की जा रही है मिलान पूरा होने के बाद शॉर्टेज का आकलन किया जा रहा है।

शिवरतन शर्मा ने पूछा 44 हजार मीट्रिक टन चावल का लॉस समिति स्तर पर हुआ है। इसका भुगतान कैसे किया जाएगा?

मंत्री के जवाब से असंतुष्ट होकर बीजेपी विधायको ने किया बहिर्गमन

Header Ad

Shrikant Baghmare

Related post

Open chat
Join Us On WhatsApp