Patan Death Mystery : पैरावट में पुलिस को मिला एक ही नरमुंड, अवशेषों की होगी DNA जांच

 Patan Death Mystery : पैरावट में पुलिस को मिला एक ही नरमुंड, अवशेषों की होगी DNA जांच

तोपचंद, दुर्ग। जिले के पाटन से महज तीन किलोमीटर दूर ग्राम बठेना में गायकवाड परिवार के पांच सदस्यों के मौत मामले में पैरावट से महिलाओं के अवशेषों में सिर्फ एक ही सर मिला है।

Header Ad

शनिवार देर शाम अंधेरा होने के कारण पैरावट में जली लाश से छेड़छाड़ नहीं कि गई थी, पुलिस ने जांच रोक दी था, लेकिन रविवार सुबह पैरावट की छानबीन ने पुलिस मुसीबत और बढ़ा दी है। पैरावट से केवल एक महिला का सर मिला है।

फोरेंसिक टीम ने पैरावट में मिले शव के अवशेषों को इक्कठा कर जांच के लिए भेज दिया है, अब फोरेंसिक टीम शवों के डीएनए टेस्ट करेगी और यह पता लगाएगी कि पैरावट में मिले अवशेष मां और दो अन्य बेटियों के हैं या नहीं।

दुर्ग रेंज के आईजी विवेकानंद सिन्हा ने इसे प्रथम दृष्टया आत्महत्या बताया है, उन्होंने कहा है कि रामबृज के घर से उसका लिखा हुआ ख़त मिला है, जिसमें उसने कर्ज और आर्थिक तंगी की वजह से यह कदम उठाने की बात कही है।

यह भी पढ़ें :पाटन: एक ही परिवार के पांच लोगों का शव मिला

हालांकि पुलिस इस ख़त की भी फारेंसिक जांच कराकर हेंड राइटिंग का मिलान कर रही है, साथ ही हत्या के पहलू के एंगल से भी इन्वेस्टीगेशन चल रही है।

शनिवार को रामबृज गायकवाड़ और उसके बेटे संजू गायकवाड के घर में शेड से लटकी हुई लाश बरामद हुई थी। पिता-पुत्र दोनों के पांव पर पैरावट से जलने के निशान है। इससे यह कयास लगाया जा रहा है पहले बाप और बेटे ने मां जानकी बाई और बेटी दुर्गा और ज्योति की हत्या की होगी, बाद में इन्हें आग लगाकर खुद भी फांसी में लटक गए होंगे।

यह भी पढ़ें : पाटन ब्रेकिंग : एक ही परिवार के 5 लोगों की मौत मामले में गृह मंत्री ने दिया इंटिलिजेंस को जाँच आदेश, सस्पेंस बराकर हत्या या फिर आत्महत्या

स्थानीय पत्रकारों की पड़ताल को माने तो रामबृज के पास करीब 12 एकड़ की जमीन थी, जिससे वह पिछले कुछ सालों में लगातार बेच रहा था, वर्तमान में रामबृज के पास केवल 35 डिसमिल जमीन है। स्थानीय पत्रकारों की माने तो रामबृज के दो अन्य भाई है, जो भानुप्रतापपुर और रायपुर में रहते हैं। उनका भी इसी 12 एकड़ जमीन में हिस्सा है।

यह भी पढ़ें :पाटन ब्रेकिंग: दुर्ग आईजी का बयान – परिवार प्रमुख ने छोड़ा है सुसाइड नोट, होगी फ़ोरेंसिक जाँच

भानुप्रतापपुर में रहने वाले उसके शिक्षक भाई ने ही गांव के एक व्यक्ति को फोन कर घर जाकर देखने कहा था, जिसके बाद इस मामले का खुलासा हुआ। फ़िलहाल इस पूरे मामले की जांच दुर्ग पुलिस कर रही है।

Header Ad

Shrikant Baghmare

Related post

Open chat
Join Us On WhatsApp