फर्जी पकड़: नौवीं की छात्रा परिचित के साथ गई घूमने, इधर नेता प्रतिपक्ष ने प्रदेश की कानून व्यवस्था को कठघरे में खड़ा किया

 फर्जी पकड़: नौवीं की छात्रा परिचित के साथ गई घूमने, इधर नेता प्रतिपक्ष ने प्रदेश की कानून व्यवस्था को कठघरे में खड़ा किया

रायपुर। राजनीति में विपक्ष की भूमिका आरोप-प्रत्यारोप की होती है और वाजिब मुद्दे पर सरकार पर आरोप लगना भी चाहिए। लेकिन, नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने प्रदेश की कानून व्यवस्था पर जिस प्रकरण में सवाल उठाए है वह दरअसल हुआ ही नहीं।

Header Ad

बता दें कि बुधवार सुबह रायपुर के पुरानी बस्ती इलाके से नौवीं कक्षा की एक बच्ची के अपहरण की खबर आई। जब पुलिस ने इस मामले की तस्दीक की तो पता चला की बच्ची अपनी मर्जी से अपने एक परिचित लड़के के साथ स्कूल से बंक मार कर घूमने चली गई थी। पुलिस ने तत्परता से मामले का संज्ञान लेते हुए बच्ची के पिता की शिकायत पर कार्रवाई की और गाड़ी को ट्रेस कर बच्ची तक पहुंच गई।

लड़की के गायब होने की खबर पर नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने बयान जारी किया कि- रायपुर में बुधवार सुबह एक नाबालिग छात्रा के अपहरण ने सुरक्षा व्यवस्था की पोल खोल दी है।

Header Ad

उन्होंने कहा -अब तो लोगों को यह भय सताने लगा है कि किसी अप्रिय स्थिति से कैसे निपटा जाए? लगातार पूरे प्रदेश में लूट, चोरी, हत्याएं व अपहरण जैसी घटनाएं बढ़ी गई हैं और कार्रवाई के नाम पर कुछ भी नहीं हो रहा है।

कौशिक ने कहा कि दो सप्ताह बीत जाने के बाद भी रायपुर के व्यापारी प्रवीण सोमानी को तलाशने में पुलिस असफल रही है और यह पता नहीं लगा पा रही है कि आखिरकार प्रवीण सोमानी कहां हैं।

कौशिक यहीं नहीं रुके और दुर्ग से लापता सत्यम अग्रवाल, भिलाई में मंगलवार को हुए तिहरे जघन्य हत्याकांड भी गिना दिए।

कौशिक ने सवाल उठाया कि इस तरह बढ़ते अपराध के लिए कौन जिम्मेदार है? उन्होंने आगे कहा कि शांतप्रिय छत्तीसगढ़ में जिस तरह की घटनाएं हो रही है, इसे लेकर गृह मंत्री को चाहिए कि दोषी अधिकारियों पर कार्रवाई करें। लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं हो रहा है जिससे अपराध पर अंकुश लगाया जा सके।

यह भी पढ़ें

Header Ad

Shrikant Baghmare

Related post

Open chat
Join Us On WhatsApp