विधानसभा ब्रेकिंग : दो सालों में जानवरों ने बर्बाद की 55 लाख से अधिक की फसल, 5 की मौत भी.. जानिए पूरा सरकारी आंकड़ा

 विधानसभा ब्रेकिंग : दो सालों में जानवरों ने बर्बाद की 55 लाख से अधिक की फसल, 5 की मौत भी.. जानिए पूरा सरकारी आंकड़ा

तोपचंद, रायपुर। छत्तीसगढ़ में पिछले दो सालों में 55 लाख से अधिक की फसल हाथी और अन्य जानवरों ने ख़राब कर दी। इतना ही नहीं इन दो सालों में हाथी और भालुओं ने 5 जान भी ली है, जबकि विचरण कर रहे हाथियों 18 घरों को तोड़ दिया है।

Header Ad

यह जानकारी विधानसभा के बजट सत्र के दूसरे दिन प्रकाश शक्राजीत नायक के सवाल पर आया है, उन्होंने वन मंत्री मोहम्मद अकबर से पूछा है “वर्ष 2019-20 एवं 2020-21 जानवर (हाथी, भालू एवं अन्य जानवरों के हमलों से जान-माल की कितनी क्षति हुई ? कितने लोग घायल हुए और कितने लोगों की मृत्यु हुई ? हाथी, भालू एवं अन्य जानवरों के हमले से हुए घायल व्यक्ति, फसल और मकान मुआवजा कितना-कितना दिया गया ? जंगली पशुओं के हमलों की रोकथाम के लिए शासन कौन-कौन सी योजनाएं संचालित की जा रही है ? एवं उक्त अवधि में इस मद में कितनी राशि व्यय की ?
इसके जवाब में वन मंत्री अकबर ने जानकारी दी कि पिछले दो सालों में कुल 5 मौत जानवरों के हमले से हुई है, जिसमें एक की जान हाथी के हमले से गई है, जबकि 4 मौत भालू के हमले से हुई है। घायलों का जो आंकड़ा वन मंत्री के ओर से दिया गया है, उसके अनुसार कुल 16 लोग घायल हुए है, जिसमें 2 हाथी, 12 भालू और 2 अन्य जानवरों के हमले से घायल हुए है।

Header Ad

वन मंत्री के दिए गए जवाब के अनुसार 18 घरों को हाथी ने क्षति पहुंचाई है, इसके लिए 239723 रूपये पीड़ित परिवार को दिया गया है। मृतकों को दिए गए मुआवजे के संबंध में वन मंत्री का जवाब आया है कि हाथी के हमले से मरने वाले के परिजन को 6 लाख रूपये दिया गया है, जबकि भालू के हमले से मरने वाले 4 मृतक के परिजनों को 22 लाख रूपये दिया गया है। इतना ही नहीं हाथी के हमले से घायल 2 लोगों को 4643 रूपये, भालू के हमले से घायल 12 लोगों को 502934 रूपये और अन्य जानवरों से घायल हुए लोगों को इलाज के 11751 रूपये दिए गए है।

ख़राब फसलों के मुआवजे की बात करें तो हाथी 1015 हेक्टेयर बर्बाद किया है, जिसके के लिए पीड़ित किसान को 4867963 रूपये और अन्य जानवरों से ख़राब हुए 249 हेक्टेयर के लिए 701639 की राशि मुआवजे के रूप में दी गई है।

Header Ad

Shrikant Baghmare

Related post

Open chat
Join Us On WhatsApp